Oops! It appears that you have disabled your Javascript. In order for you to see this page as it is meant to appear, we ask that you please re-enable your Javascript!

तापान्तर – भूगोल में तापमान की रेंज का अर्थ

तापान्तर – भूगोल में तापमान की रेंज का अर्थ

तापान्तर से मतलब किसी स्थान के उच्चतम तापक्रम (temperature) और निम्नतम तापक्रम के अंतर से होता है. आइये जानते हैं इस word के बारे में जो अक्सर भूगोल की किताबों में देखा जाता है.

तापान्तर

तापान्तर दैनिक हो सकता है और वार्षिक भी. पृथ्वी के अधिकतर स्थानों में जनवरी और जुलाई के तापमानों में ही सबसे अधिक अंतर मिलता है. इनमें एक जाड़े की ऋतु होती है और दूसरी गर्मी की. इन दोनों महीनों के औसत तापक्रम के अंतर को वार्षिक तापान्तर (Annual Range of Temperature) कहते हैं. सिर्फ तापान्तर (Rang of Temperature) कहने से भी वार्षिक तापान्तर का अर्थ लिया जाता है. सबसे कम तापान्तर विषुवत् रेखा पर और सबसे अधिक तापान्तर महाद्वीपों के आंतरिक भागों (जैसे मध्य एशिया) में पाया जाता है. जहाँ विषुवत् रेखा पर 5 F° तापान्तर मिलता है, दूसरी तरफ सामुद्रिक प्रभाव से दूर महाद्वीपों के आंतरिक भाग में 100 Fahrenheit तक तापान्तर मिलता है. समुद्र के समीपवर्ती स्थानों में तापान्तर कम होता है.

word january isotherms 300x201 - तापान्तर - भूगोल में तापमान की रेंज का अर्थ

world july isotherms 300x203 - तापान्तर - भूगोल में तापमान की रेंज का अर्थ

CALCULATION METHOD

किसी स्थान के किसी दिन-रात के उच्चतम और निम्नतम तापक्रम के अन्दर को दैनिक तापान्तर (Diurnal or Daily Range of Temperature) कहते हैं. उदाहरणार्थ “क” स्थान का किसी दिन का उच्चतम तापक्रम 102° F है और निम्नतम 80° F तो उसका दैनिक तापान्तर 102°-80°= 22° F हुआ. उच्चतम तापक्रम मध्याह्न के उपरान्त (2 या 3 बजे) और निम्नतम भोर में (लगभग 4 बजे) मिलता है.

error: Content is protected !!