महत्वपूर्ण-प्रश्नोत्तर (अम्ल क्षार एवं लवण)

महत्वपूर्ण-प्रश्नोत्तर (अम्ल क्षार एवं लवण)

10th Question in Hindi

1. अम्ल वह पदार्थ है जो
Ans: प्रोटॉन देता है

2. क्षार वह पदार्थ है जो
Ans: प्रोटॉन ग्रहण करता है

3. अम्ल व क्षारों की अभिक्रिया के फलस्वरूप बने पदार्थ को कहते है ।
Ans: लवण

4. उदासीनीकरण क्रिया से बनता है
Ans: लवण और जल

5. अम्ल एवं क्षार के परीक्षण के लिए किसका उपयोग किया जाता है ?
Ans: लिटमस पत्र

6. नीले लिटमस पत्र को लाल कर देता है
Ans: अम्ल

7. लाल लिटमस पत्र को नीला कर देता है
Ans: क्षार

8. pH स्केल का परास कितना से कितना होता है ?
Ans: 0 से 14 तक

9. किस ph परास में हमारा शरीर कार्य करता है ?
Ans: 7 से 7.8

10. उदासीन विलयन का ph मान बताये?
Ans: उदासीन विलयन का ph मान 7 होता है |

11. पिने वाले जल को जल को जीवाणु से मुक्त करने के लिए रोगाणु नाशक के रूप में किस यौगिक का प्रयोग किया जाता है ?
Ans: विरंजक चूर्ण का

12. साधरण नमक का रासायनिक सूत्र क्या है ?
Ans: NaCl

13. विरंजक चूर्ण का रासायनिक सूत्र क्या है ?
Ans: CaOCl2

14. अपच का उपचार करने के लिए किस औषधि का उपयोग होता है ?
Ans: एंटीसिड

15. साधारण नमक का रासायनिक नाम क्या है ?
Ans: कैल्सियम क्लोराइड

16. अम्ल का स्वाद कैसा होता है?
Ans: खट्टा

17 . प्लास्टर ऑफ पेरिस का रासायनिक नाम क्या है ?
Ans: कैल्सियम सल्फेट अर्धहाइड्रेट

18. क्षरको का सबसे मुख्य गुण क्या है?
Ans: अम्लो को उदासीन करना

19. प्लास्टर ऑफ पेरिस का रासायनिक सूत्र क्या है ?
Ans: CaSO4.1/2H2O

20. खट्टे स्वाद वाली वस्तुओं में कौन सा पदार्थ पाया जाता है ?
Ans: अम्ल

21. इमली में कौन सा अम्ल पाया जाता है?
Ans: टार्टरिक अम्ल

22: टमाटर में कौन सा अम्ल उपस्थित रहता है ?
Ans: आक्सैलिक अम्ल

23. खट्टा दुद्ध में कौन सा अम्ल होता है ?
Ans: लैक्टिक अम्ल

24. संतरा में कौन सा अम्ल होता है?
Ans: सिट्रिक अम्ल

25. निम्बू में कौन सा अम्ल होता है?
Ans: सिट्रिक अम्ल

26. चींटी के डंक में कौन सा अम्ल होता है ?
Ans: मेथैनोइक अम्ल

27. जब वर्षा जल के ph का मान 5.6 से कम होता है तो उसे कौन वर्षा कहते है ?
Ans: अम्लीय वर्षा

28. विरंजक चूर्ण का रासायनिक नाम क्या है ?
Ans: कैल्सियम आक्सीक्लोराइड

29. अम्ल क्षारक का सूचक का नाम बताये जो लिचेन से निकाला जाता है |
Ans: लिटमस विलयन

30. CaSO4.1/2H2O का सामान्य नाम क्या है ?
Ans: प्लास्टर ऑफ पेरिस

31. लिटमस पत्र पर अम्ल का कयता प्रभाव पड़ता है ?
Ans: नीला लिटमस पत्र को लाल कर डेटा है

32. क्षार का लिटमस पत्र पर क्या प्रभाव पड़ता है ?
Ans: लाल लिटमस पत्र को नीला करता है |

33. जिप्सम का रासायनिक सूत्र क्या है?
Ans: CaSO4.2H2O

34. उदासनिकरण अभिक्रिया कब होता है?
Ans: जब अम्ल एवम क्षारक के बिच अभिक्रिया होता है |

35. लिटमस का स्रोत क्या है?
Ans: लिचेन

36. क्षारकीय पदार्थो का स्वाद कैसा होता है ?
Ans: कड़वा

37. लिटमस का प्राकृतिक रंग क्या है?
Ans: बैगनी

38. जिंक सल्फेट का रासायनिक सूत्र क्या है ?
Ans: ZnSO4

39. कपड़ो के विरंजन के लिए किस यौगिक का उपयोग किया जाता है ?
Ans: विरंजक चूर्ण का

40. बेकिंग सोडा का रासायनिक नाम क्या है ?
Ans: सोडियम हाइड्रोजन कार्बोनेट

41. प्राकृतिक सूचक का नाम बताये?
Ans: हल्दी या लिटमस

42. क्षरको को उदासीन करना किसका मुख्य गुण है ?
Ans: अम्ल का

43. खाने वाला सोडा किसे कहते हैं?
Ans: बेकिंग सोडा को |

44. विरंजक चूर्ण किस प्रकार बनता है?
Ans: बुझा हुआ चुना क्लोरीन से अभिक्रिया करके विरंजक चूर्ण नाते हैं |

45. किस प्रकार के आयन बनते है जब जब क्षार को जल में विलेय किया जाता है ?
Ans: OH-

46. बेकिंग सोडा का रासयनिक सूत्र क्या है ?
Ans: NaHCO3

47. जब नीला लिटमस पत्र को HCL में डाला जाता है तो क्या होता है ?
Ans: नीला लिटमस लाल हो जाता है

48. धोने के सोडा का रासायनिक नाम क्या है ?
Ans: सोडियम कार्बोनेट डेकाहाइड्रेट

49. धोने का सोडा का रासायनिक सूत्र क्या है ?
Ans: Na2CO3.10H2O

50. CaOCl2 का प्रचलित नाम क्या है?
Ans: विरंजक चूर्ण

51. जल की स्थायी कठोरता को हटाने के लिए कि कोई यौगिक का नाम लिखे
Ans: सोडियम कार्बोनेट

52. अम्लीय विलयन का ph मान क्या होता है ?
Ans: pH मान 7 से कम होता है |

53. धावन सोडा का जलीय घोल क्या होता है ?
Ans: क्षारीय

54 . कठोर जल को मृदु करने के लिए किस सोडियम यौगिक का उपयोग किया जाता है ?
Ans: सोडियम कार्बोनेट डेकाहाइड्रेट

55. क्षारीय विलयन का ph मान क्या होता है ?
Ans: 7 से अधिक होता है |

56. शुद्ध जल का ph मान क्या होता है?
Ans: 7

57. पेट में किस अम्ल का निर्माण होता है ?
Ans: HCL

58. ग्लूकोज का सूत्र क्या होता है
Ans: C6H12O6

59. प्लास्टर ऑफ पेरिस का उपयोग कहाँ कहाँ होता है ?
Ans: चिकत्सा के क्षेत्र में तथा खिलौना बनाने में |

60. कोई विलयन लाल लिटमस को नीला कर देता है तो इसका ph मान क्या होगा ?
Ans: 7 से अधिक होगा

61. कोई विलयन नीला लिटमस को लाल कर देता है इसका ph मान क्या होगा ?
Ans: 7 से कम होगा

62. बिना बुझे हुए चुने का रासायनिक सूत्र क्या होगा ?
Ans: CaO

63. टूटी हुई हड्डी को मरम्मत के लिए डॉक्टर किसका उपयोग करता है ?
Ans: प्लास्टर ऑफ पेरिस का

64. टार्टरिक अम्ल का प्राकृतिक स्रोत क्या है ?
Ans: इमली

Important Q & A Acid Bases and Salts

Q1. पीतल एवं ताँबे के बर्तनों में दही एवं खट्टे पदार्थ क्यों नहीं रखने चाहिए?

उत्तर : पीतल एवं ताँबे के बर्तनों में दही एवं खट्टे पदार्थ इसलिए नहीं रखने चाहिए क्योंकि दही में मौजूद लैक्टिक अम्ल होते है | जो पीतल एवं ताँबे के बर्तनों से अभिक्रिया करके हानिकारक   ( विषैला ) यौगिक बनाते है | जिसके कारणवश ये खाने लायक नहीं रह जाते है |

Q2. धातु के साथ अम्ल कि अभिक्रिया होने पर सामान्यतः कौन सी गैस निकलती है? एक उदाहरण के द्वारा समझाइए। इस गैस की उपस्थिति की जाँच आप कैसे करेंगे?

उत्तर : धातु के साथ अम्ल कि अभिक्रिया होने पर सामान्यतः हाइड्रोजन गैस निकलती है|

2NaOH + Zn   =    Na2ZnO2 + H

जाँच – जलती हुई मोमबती को परखनली के मुंह के पास ले जाने पर फट – फट अर्थात् पॉप ध्वनि उत्पन्न होती है |

Q3. कोई धातु यौगिक ‘A’ तनु हाइड्रोक्लोरिक अम्ल के साथ अभिक्रिया करता है तो बुदबुदाहट उत्पन्न होती है। इससे उत्पन्न गैस जलती मोमबत्ती को बुझा देती है। यदि उत्पन्न यौगिकों में एक से कैल्सियम क्लोराइड हैं, तो इस अभिक्रिया के लिए संतुलित रासायनिक समीकरण लिखिए।

उत्तर : धातु के यौगिक ‘A’CaCO3 ( कैल्सियम कार्बौनेट ) है |

CaCO3  (s) + 2HCl  (aq)    =     CaCl (aq) + CO2 (g) + H2O(l)

Q4. HCl, HNO3 आदि जलीय विलयन में अम्लीय अभिलक्षण क्यों प्रदर्शित करते हैं, जबकि ऐल्कोहॉल एवं ग्लूकोज़ जैसे यौगिकों के विलयनों में अम्लीयता के अभिलक्षण नहीं प्रदर्शित होते हैं?

उत्तर : HCl, HNO3 आदि जलीय विलयन में H+आयन बनता है जिसके कारण ये अम्लीय अभिलक्षण को प्रदर्शित करते हैं, जबकि ऐल्कोहॉल एवं ग्लूकोज़ जैसे यौगिकों के विलयनों में H+आयन नहीं बनता है जिसके कारण ये अम्लीयता के अभिलक्षण नहीं प्रदर्शित होते हैं |

Q5. अम्ल का जलीय विलयन क्यों विद्युत का चालन करता है?

उत्तर :  अम्ल का जलीय विलयन विद्युत का चालन करता है क्योंकि अम्ल जलीय विलयन में H+आयन उत्पन्न करता है जिसके कारण ये  विद्युत् धारा का प्रवाह होता है  |

Q6. शुष्क हाइड्रोक्लोरिक गैस शुष्क लिटमस पत्र के रंग को क्यों नहीं बदलती है?

उत्तर : शुष्क हाइड्रोक्लोरिक गैस शुष्क लिटमस पत्र के रंग को  नहीं बदलती है क्योंकि जल कि अनुपस्थिति में HCl से  H+आयन उत्पन्न नहीं हो पाता है | सिर्फ जल कि उपस्थिति में HCl से  H+आयन उत्पन्न  होता है|

Q7. अम्ल को तनुकृत करते समय यह क्यों अनुशंसित करते हैं कि अम्ल को जल में मिलाना चाहिए,न कि जल को अम्ल में? 

उत्तर : अम्ल को तनुकृत करते समय यह अनुशंसित करते हैं कि अम्ल को जल में मिलाना चाहिए,न कि जल को अम्ल क्योंकि जल को सांद्र अम्ल में मिलने से वह तीव्र अभिक्रिया कर विस्फोट करते है | इसके कई दुष्परिणाम हो सकते है | इसलिए हमें कभी भी जल को अम्ल में नहीं मिलाना चाहिए बल्कि हमें  अम्ल को जल में मिलाना चाहिए|

Q8. अम्ल के विलयन को तनुकृत करते समय हाइड्रोनियम आयन H3O+ की संlद्रता कैसे प्रभावित हो जाती है?

उत्तर: अम्ल के विलयन को तनुकृत करते समय हाइड्रोनियम आयन की सांद्रता में (H3O+/OH)  प्रति इकाई आयतन में कमी हो जाती है ।

Q6. जब सोडियम हाइड्रॉक्साइड विलयन में अधिक क्षारक मिलाते हैं तो हाइड्रॉक्साइड आयन ( OH ) की सांद्रता कैसे प्रभावित होती है?

उत्तर: हाइड्रोक्साइड आयन (OH) की सांद्रता बढ़ जाती है |

अम्ल क्षार एवं लवण

Q1. आपके पास दो विलयन ‘A’ एवं ‘B’ हैं। विलयन ‘A’ के PH का मान 6 है एवं विलयन ‘B’  के PH का मान 8 है। किस विलयन में हाइड्रोजन आयन की सांद्रता अधिक है? इनमें से कौन अम्लीय है तथा कौन क्षारकीय?

उत्तर: A  विलयन : PH = 6 , PH < 7

B  विलयन : PH = 8 , PH > 7

Aविलयन में Hआयन की सांद्रता अधिक है |

Q2. H+(aq) आयन की सांद्रता का विलयन की प्रकृति पर क्या प्रभाव पड़ता है?

उत्तर: जैसे – जैसे हाइड्रोजन आयन H(aq) आयन कि सांद्रता बढती है विलयन और अधिक अम्ल होता है |

Q3. क्या क्षारकीय विलयन में H+​(aq) आयन होते हैं? अगर हाँ, तो यह क्षारकीय क्यों होते हैं?

उत्तर: हां, H+ आयन क्षारकीय है परन्तु इसकी सांद्रता (OH) आयनों की सांद्रता से कम होती इसलिए यह क्षारकीय होते है |

Q4. कोई किसान खेत की मृदा की किस परिस्थिति में बिना बुझा हुआ चूना (कैल्सियम ऑक्साइड ), बुझा हुआ चूना ( कैल्सियम हाइड्रॉक्साइड) या चॉक  ( कैल्सियम कार्बोनेट ) का उपयोग करेगा? 

उत्तर: कोई किसान खेत की मृदा की अम्लीय परिस्थिति में बिना बुझा हुआ चूना (कैल्सियम
ऑक्साइड), बुझा हुआ चूना (कैल्सियम हाइड्रॉक्साइड) या चॉक (कैल्सियम कार्बोनेट) का उपयोग मिट्टी को उदासीन बनाने के लिए करेगा |

Q5.CaOCl2 यौगिक का प्रचलित नाम क्या है?

उत्तर : CaOCl2 यौगिक का प्रचलित नाम विरंजक चूर्ण  है|

Q6. उस पदार्थ का नाम बताइए जो क्लोरीन से क्रिया करके विरंजक चूर्ण बनाता है।

उत्तर: शुष्क बुझा हुआ चूना |

Q7. कठोर जल को मृदु करने के लिए किस सोडियम यौगिक का उपयोग किया जाता है? 

उत्तर : कठोर जल को मृदु करने के लिए सोडियम कार्बौनेट जिसे धोने  का सोडा भी कहते है |

Q8. सोडियम हाइड्रोजनकार्बोनेट के विलयन को गर्म करने पर क्या होगा? इस अभिक्रिया के लिए समीकरण लिखिए|

उत्तर: सोडियम हाइड्रोजनकार्बोनेट के विलयन को गर्म करने पर निम्न अभिक्रिया होगा-

हाइड्रोजनकार्बोनेट - महत्वपूर्ण-प्रश्नोत्तर (अम्ल क्षार एवं लवण)
Q9.प्लास्टर ऑपफ पेरिस की जल के  साथ अभिक्रिया  के लिए समीकरण लिखिए।
उत्तर: CaSO4 . ½H2O + 1½ H2O  = CaSO4 . 2 H2O

महत्वपूर्ण-प्रश्नोत्तर अम्ल क्षार एवं लवण

Q1. कोई विलयन लाल लिटमस को नीला कर देता है, इसका pH संभवतः क्या होगा?

(a) 1

(b) 4

(c) 5

(d) 10

उत्तर: (d) 10

Q2. कोई विलयन अंडे के पिसे हुए कवच से अभिक्रिया कर एक गैस उत्पन्न करता है जो चूने के पानी को दुधिया कर देती है। इस विलयन में क्या होगा?

(a) NaCl

(b) HCl

(c) LiCl

(d) KCl

उत्तर: (b) HCl

Q3. NaOH का 10 ml विलयन, HCl के 8 mL विलयन से पूर्णतः उदासीन हो जाता है। यदि हम NaOH के उसी विलयन का 20 mL लें तो इसे उदासीन करने के लिए HCl के उसी विलयन की कितनी मात्रा की आवश्यकता होगी?

(a) 4 mL

(b) 8 mL

(c) 12 mL

(d) 16 mL

उत्तर; (d) 16 mL

Q4. अपच का उपचार करने के लिए निम्न में से किस औषधि का उपयोग होता है ? 

(a) एंटीबायोटिक (प्रतिजैविक)

(b) एनालजेसिक (पीड़ाहारी)

(c) ऐन्टैसिड (प्रतिअम्ल)

(d) एंटीसेप्टिक (सडनरोधी)

उत्तर: (c) ऐन्टैसिड (प्रतिअम्ल)

Q5. निम्न अभिक्रिया के लिए पहले शब्द-समीकरण लिखिए तथा उसके बाद संतुलित समीकरण लिखिएः

(a)  तनु सल्फ्ऱयूरिक अम्ल दानेदार जिंक के साथ अभिक्रिया करता है।

(b) तनु हाइड्रोक्लोरिक अम्ल मैग्नीशियम पट्टी के साथ अभिक्रिया करता है।

(c) तनु सल्फ्ऱयूरिक अम्ल ऐलुमिनियम चूर्ण के साथ अभिक्रिया करता है।

(d) तनु हाइड्रोक्लोरिक अम्ल लौह के रेतन के साथ अभिक्रिया करता है।

उत्तर :

(a) Zn (s) + H2SO4 (aq) =  ZnSO4 (aq) + H2 (g)

(b) Mg (s) + 2HCl (aq)   =   MgCl2 (aq)  + H2 (g)

(c) 2Al (s) + 3H2SO4 (aq) = Al2(SO4)3 (aq) + H2 (g)

(d) Fe(s) + 2HCl (aq)   =   FeCl2 (aq)  + H2 (g)

Q6.एल्कोहोल एवं ग्लूकोज जैसे यौगिको में भी हाइड्रोजन होते है लेकिन इनका वर्गीकरण अम्ल कि तरह नहीं होता है | एक क्रियाकलाप द्वारा इसे साबित कीजिए |

उत्तर : ग्लूकोज़, ऐल्कोहॉल, हाइड्रोक्लोरिक अम्ल, सल्फ्रयूरिक अम्ल आदि का विलयन लीजिए। एक कॉर्क पर दो कीलें लगाकर कॉर्क को 100 mL के  बीकर में रख दीजिए। अब किलों को 6 वोल्ट की एक बैटरी के  दोनों टर्मिनलो के साथ एक बल्ब तथा स्विच के माध्यम से जोड़ दीजिए | अब बीकर में थोड़ा तनु HCl डालकर विद्युत धारा प्रवाहित कीजिए| इसी क्रिया को तनु सल्फ्रयूरिक अम्ल के साथ दोहराइए। एल्कोहोल एवं ग्लूकोज जैसे यौगिको में भी हाइड्रोजन होते है लेकिन इनका वर्गीकरण अम्ल कि तरह नहीं होता है क्योंकि ये Hआयन नहीं बनाता है |

Q7. आसवित जल विधुत का चालक क्यों नहीं होता जबकि वर्षा जल होता है ?

उत्तर : आसवित जल शुद्ध होते है | इसलिए इनमे विधुत का चालन नहीं होता है क्योकि विधुत के चालन के लिए आयनों की आवश्यकता होती है | जबकि वर्षा जल में विधुत का चालन होता है क्योकि इसमें थोड़ी मात्रा में अम्ल विद्यमान रहता है | जोंकी वायु में उपस्थित सल्फर – डाइआक्साइड और नाइट्रोजन डाइआक्साइड के साथ मिलकर इसे अम्लीय बना देते है |अम्लीय होने के कारण ये H+ आयन उत्पन्न करते है जिसके कारण विधुत का चालन होता है |

Q8. जल की अनुपस्थिति में अम्ल का व्यवहार अम्लीय क्यों नहीं होता है ?

उत्तर :  जल की अनुपस्थिति में अम्ल का व्यवहार अम्लीय नहीं होता है क्योंकि जल की उपस्थिति में ही H+आयन अम्ल से अलग होते है |

Q9. पाँच विलयनो A, B, C, D,व E की जब सार्वत्रिक सूचक से जांच कि जाती  हैतो pH के मान क्रमशः 4, 1, 11,7, एवं 9 प्राप्त होते है | कौन सा विलयन :

(a) उदासीन है ?

(b) प्रबल क्षारीय है ?

(c) प्रबल अम्लीय है ?

(d)दुर्बल अम्लीय है ?

(e) दुर्बल क्षारीय है?

PH के मानो को हाइड्रोजन आयन की सांद्रता के आरोही क्रम में व्यवस्थित कीजिए |

उत्तर :

विलयन  pH का मान सार्वत्रिक सूचक से जांच
A 4 दुर्बल अम्लीय है
B 1 प्रबल अम्लीय है
C 11 प्रबल क्षारीय है
D 7 उदासीन है
E 9 दुर्बल क्षारीय है

H+ आयन की सांद्रता जैसे – जैसे बढती है pH का मान उसी प्रकार घटता है |

C < E< D< A < B

Q10. परखनली ‘A’ एवं ‘B’ में समान लंबाई की मैग्नीशियम की पट्टी लीजिए। परखनली ‘A’ में हाइड्रोक्लोरिक अम्ल (HCl) तथा परखनली ‘B’ में ऐसिटिक अम्ल (CH3COOH) डालिए। किस परखनली में अधिक तेजी से बुदबुदाहट होगी तथा क्यों? 

उत्तर: परखनली ‘A’ में अधिक बुदबुदाहट होगी क्योंकि हाइड्रोक्लोरिक अम्ल एसेटिक अम्ल से अधिक प्रबल अम्ल है |

Q11.ताजे दूध के PH का मान  6 होता है | दही बन जाने पर PH के मान में क्या परिवर्तन होगा ? अपना उत्तर समझाइए |     

उत्तर : ताजे दूध के PH का मान 6 होता है | दही बनने की प्रक्रिया में लैक्टिक अम्ल का निर्माण होता है | इसलिए दही के PH का मान 6 से कम होगा |

Q12.एक ग्वाला ताजे दूध में थोड़ा बेकिंग सोडा मिलाता है |

(a) ताजा दूध के PH का मान 6 से बदल कर थोडा क्षारीय क्यों बना देता है ?

(b) इस दूध को दही बनने में अधिक समय क्यों लगता है ?

उत्तर:  (a) ताजा दूध के PH का मान 6 से बदल कर थोडा क्षारीय इसलिए बना देता है क्योंकि दूध में उपस्थित लैक्टोबेसिलस जीवाणु दूध को अम्लीय बना देता है | दूध में इसलिए बेकिंग सोडा मिलाया जाता है ताकि दूध लंबे समय क्षारीय बना रहे जिससे यह लम्बे समय तक बना रहे |

(b) इस दूध को दही बनने में अधिक समय  इसलिए लगता है क्योकि इस प्रक्रिया में बना लैक्टिक अम्ल ताजे दूध में मिला क्षारक  (बेकिंग सोडा) को पहले उदासीन करता है फिर इसे अम्ल में बदल देता है जिसके कारण दही बनता है |

Q13.प्लास्टर ऑफ़ पेरिस को आर्द्र – रोधी बर्तन में क्यों रखा जाना चाहिए ? इसकी व्याख्या कीजिए |

उत्तर : प्लास्टर ऑफ़ पेरिस को आर्द्र – रोधी बर्तन में इसलिए रखा जाना चाहिए क्योंकि यह आर्द्रता की उपस्थिति में जल को अवशोषित कर ठोस पदार्थ जिप्सम बनाती है | जिसके कारण इसमें जल के साथ मिलकर जमने का गुण नष्ट हो जाता है |

Q14. उदासीनीकरण अभिक्रिया क्या है ? दो उद्धरण दीजिए |

उत्तर :  वह अभिक्रिया जिसमे क्षारक एवं अम्ल अभिक्रिया कर जल एवं लवण का निर्माण करते है इस अभिक्रिया को उदासीनीकरण अभिक्रिया कहते है |इस अभिक्रिया में अम्ल तथा क्षारक एक दुसरे के प्रभाव को खत्म कर या उदासीन बना देते है|

Q15. धोने का सोडा एवं बेकिंग सोडा के दो – दो प्रमुख उपयोग बताइए | .

उत्तर : धोने का सोडा के उपयोग :-

(1) सोडियम कार्बोनेट का उपयोग काँच, साबुन एवं कागज उद्यगो में होता है |

(2) इसका उपयोग बोरेक्स जेसे सोडियम योगिक के उत्पादन में होता है |

(3) सोडियम कार्बोनेट का उपयोग घरों में साफ – सफाई के लिए होता है |

(4) जल की स्थाई कठोरता को हटाने के लिए इसका उपयोग होता है |

बेकिंग सोडा के  उपयोग :- 

(1)  बेकिंग सोडा का उपयोग खाने कि चीजो को मुलायम , स्पंजी एवं खस्ता  बनाने के लिए किया जाता है |

(2) बेकिंग सोडा के  क्षारिय होने के करण ये पेट में अम्ल की मात्रा की अधिकता को कम या उदासीन करके राहत पहुचाने के लिए उपयोग किया जाता है |

(3) कभी – कभी इसका उपयोग खाने को शीघ्रता से पकाने के लिए भी किया जाता है |

(4) इसका उपयोग सोडा – अम्ल अग्निशामक में भी किया जाता है |

महत्वपूर्ण-प्रश्नोत्तर अम्ल क्षार एवं लवण

प्रश्न 1: CaOCl2 यौगिक का प्रचलित नाम क्या है ?

उत्तर: ब्लीचिंग पाउडर

प्रश्न 2: उस पदार्थ का नाम बताइए जो क्लोरीन से क्रिया करके विरंजक चूर्ण बनता है |

प्रश्न 3: कठोर जल को मृदु करने के लिए किस सोडियम यौगिक का उपयोग किया जाता है ?

उत्तर: Na2CO3.10H2O (धोने का सोडा)

प्रश्न 4: सोडियम हाइड्रोजनकार्बोनेट के विलयन को गर्म करने पर क्या होता होगा ? इस अभिक्रिया के लिए समीकरण लिखिए |

उत्तर: जब सोडियम हाइड्रोजन कार्बोनेट के विलयन को गर्म किया जाता है तो सोडियम कार्बोनेट, जल और कार्बन डाइऑक्साइड गैस उत्सर्जित होता है |

हाइड्रोजनकार्बोनेट - महत्वपूर्ण-प्रश्नोत्तर (अम्ल क्षार एवं लवण)
सोडियम हाइड्रोजनकार्बोनेट

प्रश्न 5: प्लास्टर ऑफ़ पेरिस की जल के साथ अभिक्रिया के लिए समीकरण लिखिए |

उत्तर:

ऑफ़ पेरिस - महत्वपूर्ण-प्रश्नोत्तर (अम्ल क्षार एवं लवण)
प्लास्टर ऑफ़ पेरिस