Oops! It appears that you have disabled your Javascript. In order for you to see this page as it is meant to appear, we ask that you please re-enable your Javascript!

मेहरानगढ़ क़िला

मेहरानगढ़ क़िला

मेहरानगढ़ क़िला पहाड़ी के बिल्‍कुल ऊपर बसे होने के कारण राजस्थान राज्य के सबसे ख़ूबसूरत क़िलों में से एक है।

  • मेहरानगढ़ के क़िले को जोधपुर का क़िला भी कहा जाता है।
  • मेहरानगढ़ क़िला 120 मीटर ऊँची एक चट्टान पहाड़ी पर निर्मित है। इस दुर्ग के परकोटे की परिधि 10 किलोमीटर है।
  • परकोटे की ऊँचाई 20 फुट से 120 फुट तथा चौड़ाई 12 फुट से 70 फुट तक है। परकोटे में दुर्गम मार्गों वाले सात आरक्षित दुर्ग बने हुए थे।
  • इस क़िले के सौंदर्य को शृंखलाबद्ध रूप से बने द्वार और भी बढ़ाते हैं।
    • इन्‍हीं द्वारों में से एक है-जयपोल। इसका निर्माण राजा मानसिंह ने 1806 ईस्‍वी में किया था।
    • दूसरे द्वार का नाम है-विजयद्वार। इसका निर्माण राजा अजीत सिंह ने मुग़लों पर विजय के उपलक्ष्‍य में किया था।




  • दुर्ग के भीतर राजप्रासाद स्थित है। दुर्ग के भीतर सिलहखाना (शस्त्रागार), मोती महल, जवाहरखाना आदि मुख्य इमारतें हैं।
  • मोती महल के प्रकोष्ठों की भित्तियों तथा छतों पर सोने की अनुपम कारीगरी की गयी है। क़िले के उत्तर की ओर ऊँची पहाड़ी पर थड़ा नामक एक भवन है जो संगमरमर का बना है। यह एक ऊँचे -चौड़े चबूतरे पर स्थित है।
  • यहाँ जोधपुर नरेश जसवंतसिंह सहित कई राजाओं के समाधि स्थल बने हुए हैं। जोधपुर की एक विशेषता यहाँ की कृत्रिम झीलें और कुएँ हैं, जिनके अभाव में इस इलाके में नगर की कल्पना नहीं की जा सकती थी।
  • मेहरानगढ़ के क़िले का एक कुआँ तो 135 मीटर गहरा है। इस सारी व्यवस्था के बावजूद वहाँ जल का अभाव सदैव महसूस किया जाता था।अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमे फेसबुक (Facebook) पर ज्वाइन करे Click Now
    मेहरानगढ़ क़िला
    मेहरानगढ़ क़िला, जोधपुर
    विवरण मेहरानगढ़ क़िला 120 मीटर ऊँची एक चट्टान पहाड़ी पर निर्मित है। इस दुर्ग के परकोटे की परिधि 10 किलोमीटर है।
    राज्य राजस्थान
    ज़िला जोधपुर
    निर्माता महाराजा मान सिंह, अजीत सिंह
    निर्माण काल 1806 ई.
    भौगोलिक स्थिति उत्तर- 26° 18′ 0.00″, पूर्व- 73° 1′ 12.00″
    मार्ग स्थिति मेहरानगढ़ क़िला जोधपुर राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या 65 से लगभग 8 किमी की दूरी पर स्थित है।
    कैसे पहुँचें हवाई जहाज़, रेल, बस आदि
    हवाई अड्डा जोधपुर हवाई अड्डा
    रेलवे स्टेशन जोधपुर रेलवे स्टेशन
    बस अड्डा जोधपुर बस अड्डा
    यातायात स्थानीय बस, ऑटो रिक्शा, साईकिल रिक्शा
    क्या देखें चामुंडा माताजी का मंदिर, मोती महल, शीशा महल
    कहाँ ठहरें होटल, धर्मशाला, अतिथि ग्रह
    एस.टी.डी. कोड 0291
    ए.टी.एम लगभग सभी
    Map-icon.gif गूगल मानचित्र
    संबंधित लेख जसवंत थाड़ा, उम्मेद महल
    अन्य जानकारी मेहरानगढ़ क़िले के संग्रहालय में हथियार, वेशभूषा, चित्र और कमरों में राठौड़ की विरासत दर्शाती है।
    अद्यतन‎




error: Content is protected !!