राइबोसोम की संरचना एवं प्रकार

राइबोसोम की संरचना एवं प्रकार

राइबोसोम का सामान्य परिचय (Introduction of Ribosome):-

यह एक झिल्ली विहीन कोशिकांग है। यह सभी कोशिकाओं (सार्वभौमिक कोशिकांग) में पाया जाता है। जॉर्ज Palade द्वारा सबसे पहले देखा गया। यह परिपक्व आरबीसी में अनुपस्थित होता हैं। यह आकार में सबसे छोटा कोशिकांग है। इसका आकार 15-20nm होता है।

राइबोसोम की संरचना एवं प्रकार
राइबोसोम की संरचना एवं प्रकार

रीबोफोरिन प्रोटिन की मदद से RER (खुरदरी अन्तःप्रद्रव्यी जालिका) पर पर उपस्थित होता है। ये कोशिका के न्यूक्लियोलस(केन्द्रिक) में भी पाए जाते है एवं सभी कोशिका के कोशिका द्रव्य में भी पाये  हैं।



राइबोसोम के प्रकार (Types of Ribosome ):-

  • प्रोकेरीयोट राइबोसोम (Prokaryotic Ribosome)  : –  प्रोकेरियोट में राइबो सोम 70s प्रकार के होते है। जो 50s और 30s उपइकाई के बने होते हैं।
  • युकेरीयोट राइबोसोम (Eukaryotic Ribosome) : –  युकेरियोट में राइबोसोम 80s प्रकार के होते है। 60s और 40s उपइकाई के बने होते हैं।
  • हरितलवक राइबोसोम (Chloroplast Ribosome) : यह 70s प्रकार के जो 50s और 30s उपइकाई के बने होते है।
  • माइटोकांड्रिया राइबोसोम (Mitochondrial Ribosome) : यह 70s प्रकार के जो 50s और 30s उपइकाई के बने होते है।

राइबोसोम की संरचना (Structure of Ribosome):-

अवसादन इकाई के अनुसार, राइबोसोमकी दो उपइकाई होती हैं। इसकी बड़ी उपइकाई आकृति में गुंबद के जैसी और छोटी उपइकाई अंडाकार होती है।

बड़ा उपइकाई में तीन स्थल (साइट) होते हैं-

  1. ए-स्थल (A-Site): – यह अमीनोएसिल स्थल तथा टी-आरएनए के लिए ग्राही स्थल।
  2. पी-स्थल (P-Site): – यह पेप्टाइडल साइट, पेप्टाइड श्रंखला के दीर्घीकरण के लिए स्थल।
  3. ई-स्थल (E-Site): – यह टी-आरएनए के लिए राइबोसोम से बाहर निकलने के लिए स्थल।

इसकी उपइकाईयाँ राइबोप्रोटीन और आर-आरएनए द्वारा बनी होती है। जो निम्न प्रकार की होती है-

  1. 50s उपइकाई – 34% प्रोटीन + 23 एस और 5 एस आर-आरएनए
  2. 30s उपइकाई – 21% प्रोटीन + 16 एस आर-आरएनए
  3. 60s उपइकाई – 40% प्रोटीन + 28 एस, 5.8 एस और 5 एस आर-आरएनए
  4. 40s उपइकाई 33% प्रोटीन + 18 एस आरआरएनए

Ribosome का निर्माण न्यूक्लियोलस (केन्द्रिक) में 40-60% प्रोटीन और 60-40% आरएनए द्वारा होता है। न्यूक्लियोलस को राइबोसोमल उत्पादक फैक्टरी (Ribosomal Manufactring Factory) माना जाता है।

राइबोसोम के कार्य (Functions of Ribosome):-

यह प्रोटीन संश्लेषण में भाग लेता है, इसलिए इसे सेल के इंजन या प्रोटीन फैक्ट्री के रूप में जाना जाता है।

पॉलीराइबोसोम- प्रोटीन संश्लेषण के दौरान कई Ribosome एम-आरएनए से जुड़कर एक सरंचना बनाता है, जिसे पॉलीराइबोसोम या पोलीसीम कहा जाता है।

राइबोसोम की संरचना एवं प्रकार

Biology Notes In Hindi

अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमे फेसबुक(Facebook) पर ज्वाइन करे Click Now

error: Content is protected !!