UGC NET के हिंदी विषय हेतु उपयोगी पुस्तकें

GK

UGC NET के हिंदी विषय हेतु उपयोगी पुस्तकें

आइये अब हम UGC NET के लिए हिंदी विषय के पेपर-II और पेपर-III से संबंधित महत्वपूर्ण अध्ययन सामग्री पर एक नज़र डालते हैं।

  • इग्नु नोट्स – हिंदी भाषा एवं साहित्य
  • हिंदी साहित्य का इतिहास – कुमार सर्वेश
  • हिंदी कविता (कल से आज तक)- कुमार सर्वेश
  • काव्य के तत्व – आचार्य देवेन्द्र नाथ ठाकुर
  • खड़ी बोली का प्रारंभिक स्वरुप – निलेश जैन
  • कबीर –परमानंद श्रीवास्तव
  • जायसी आकलन के आयाम- सदानंद शाही
  • निराला रचित राम की शक्तिपूजा भाष्य –डा. सूर्य प्रसाद दीक्षित
  • जयशंकर प्रसाद – विस्वनाथ प्रसाद तिवारी
  • हिंदी आलोचना : बीसवी शताब्दी – डा. रेवतीरमण
  • प्रसाद और श्कंद्गुप्त – डा. रेवतीरमण
  • त्रिवेणी – आचार्य रामचंद शुक्ल
  • मोहन राकेश और अषाढ़ का एक दिन – गिरीश रस्तोगी
  • कबीर के सबद – डा, शुकदेव सिंह
  • महाभोज मुल्यांकन के परिपेक्ष्य – सदानंद शाही
  • भ्रमर गीत –सार- आचार्य रामचंद शुक्ल द्वरा सम्पादित
  • गोदान – प्रेमचंद
  • दिव्या – यशपाल
  • मैला आंचल- रेणु
  • महाभोज- मन्नू भंडारी
  • भारत दुर्दशा – भारतेंदु हरिश्चंद
  • स्कंदगुप्त – जयशंकर प्रसाद
  • अषाढ़ का एक दिन- मोहन राकेश
  • निबंध निलय- डा. सत्येन्द्र
  • कुरुक्षेत्र – दिनकर
  • भारत भारती – मैथलीशरण गुप्त

UGC NET के लिए हिंदी विषय की तैयारी के लिए इन पुस्तकों का विशेषतौर पर अध्ययन करें और भ्रमित न होएं समय रहते सभी टॉपिक्स की तैयारी एक तय रणनीति के साथ करें, निश्चित रूप से आप सफलता प्राप्त करेंगे।

UGC NET हिंदी विषय की तैयारी हेतु महत्वपूर्ण टिप्स

अब, आइये, UGC NET के हिंदी विषय की तैयारी के लिए कुछ महत्वपूर्ण टिप्स को देखते हैं। यह महत्वपूर्ण टिप्स निश्चित रूप से उम्मीदवारों के वांछित लक्ष्य को प्राप्त करने में उनकी सहायता करेंगे।

  • सबसे पहले परीक्षार्थी पाठ्यक्रम का सम्पूर्ण अध्ययन करें और इस के आधार पर अपनी एक टॉपिक वाइज समय सारणी बनाये जिससे की परीक्षा से पहले संपूर्ण पाठ्यक्रम कवर हो जाए।
  • पाठ्यक्रम के अध्ययन के बाद आप विगत वर्षों के प्रश्न-पत्रों को अवलोकन करें और उसके अनुसार परीक्षा में पूछे जाने वाले प्रश्न का स्वरुप और पैटर्न जानने की कोशिश करें। इसके बाद एक रणनीति के तहत in प्रश्न पत्रों को बार-बार हल करें और इन अभ्यास प्रश्न-पत्रों के द्वारा स्वयं का मूल्याकन करें।
  • महत्वपूर्ण टॉपिक्स का बार-बार अध्ययन करें और अपने लिए स्वयं नोट्स तैयार करें
  • आपने जितना भी पढ़ा हो, सप्ताह के अंत में उसका रिवीजन करना न भूलें जिससे कि आप पाठ्यक्रम के महत्वपूर्ण भागों पर अपना पुर्णतः नियंत्रण स्थापित कर सकें।www.webcollection.co.in
  • UGC NET के हिंदी विषय हेतु उपयोगी पुस्तकें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.