hindi


राजस्थान के प्रमुख त्यौहार Major festivals of Rajasthan ( स्त्रोत :- उत्तरभारत का काशीपंचांग तथा मध्य भारत का उज्जैन पंचांग ) आखा तीज या अक्षय तृतीय – वैशाख शुक्ला 3 – राज्य में कृषक सात अन्नो तथा हल का पूजन करके शीघ्र वर्षा की कामन के साथ यह त्यौहार मनाते है […]

राजस्थान के प्रमुख त्यौहार


राजस्थान के प्रमुख बड़े उद्योग Major industries of Rajasthan सूती वस्त्र उद्योग – राजस्थान राज्य का सबसे प्राचीन एवं सुसंगठित उद्योग जो वर्तमान में राज्य में मुख्य उद्योग है | राजस्थान में सर्वप्रथम 1889 में दी कृष्णा मिल्स लिमिटेड की स्थापना देशभक्त सेठ दामोदर दास ने ब्यावर में की | यह […]

राजस्थान के प्रमुख बड़े उद्योग


राजस्थान के नृत्य एवं लोक नृत्य अनादि काल से मनुष्य अपने आनंद के क्षणो में प्रसन्नता से झूम कर भंगिमाओ का अनायाश , अनियोजित पर्दर्शन करता है | इसी को नृत्य कहते है | यदि नृत्य को निश्चित नियमो व व्याकरण के माध्यम से किया जाए तो यह शास्त्रीय नृत्य कहलाता […]

राजस्थान के नृत्य एवं लोक नृत्य



राजस्थान के प्रमुख रीति-रिवाज(जन्म और वैवाहिक रस्मे) राजस्थान के रीति रिवाज-  प्रत्येक देश व जाति की उन्नति व अवनति के लिए कुछ उसके रीति रिवाज व उनकी प्रथाओ पर निर्भर करते है | रीति-रिवाज से तात्पर्य उन कर्तव्य व कार्यो से है जिन्हें विशेष अवसरों पर परम्परा की द्र्रष्टि से […]

राजस्थान के प्रमुख रीति-रिवाज (जन्म और वैवाहिक रस्मे)


राजस्थान के प्रमुख सिक्के पुरातात्विक द्रष्टि से भारत के प्राचीनतम सिक्को को पंचमार्क , आहत अथवा चिन्हित सिक्के कहा जाता है | 1835 ई. में जेम्स प्रिसेप ने निर्माण सैली के आधार पर इस सीक्को को पंचमार्क सिंक्के कहा पंचमार्क सिक्को का समीकरण साहित्य में उल्लेखित कार्षापण के साथ किया गया है […]

राजस्थान के प्रमुख सिक्के


 राजस्थान के प्रसिद्ध ऐतिहासिक युद्ध वैहन्द का युद्ध – 1008 ई. में पंजाब के शाही वंश के राजा आनंदपाल एवं महमूद गजनवी के मध्य हुए इस युद्ध में दुर्भाग्यवश आनंदपाल की विजय हो गई | इस युद्ध में सांभर के चौहानों ने आनंदपाल के साथ दिया था | अजमेर का युद्ध […]

 राजस्थान के प्रसिद्ध ऐतिहासिक युद्ध



हिंदी मुहावरे मुहावरे क्या है | मुहावरे की परिभाषा मुहावरा एक ऐसा व्याक्यांश है, जो वाक्य- रचना में अपना विशेष अर्थ प्रकट करता है | अर्थात जो व्याक्यांश सामान्य अर्थ की प्रतीति न कराकर विशेष अर्थ का बोध करता है, वह मुहावरा कहलाता है | मुहावरे के प्रयोग से भाषा […]

हिंदी मुहावरे


MS Word 2010 In Hindi एमएस वर्ड 2010 को स्‍टार्ट करने के लिए Word 2010 के डेस्‍कटॉप आइकन पर क्लिक करें या Start-All Programs-Microsoft Office-Microsoft Word 2010 में जाएं। Window of Word 2010 looks like – Office Element : 1. Title Bar : यह वर्ड विंडो के सबसे उपर स्थित […]

MS Word 2010 In Hindi


राजस्थान के प्रमुख तालाब (Major ponds of Rajasthan) राजस्थान के प्रमुख तालाबों के नाम और उनकें स्थान के बारे में यहाँ इस टेबल में बताया गया है| राजस्थान के प्रमुख तालाब तालाब  स्थान  हेमावास  पाली दांतीवाड़ा  पाली खरड़ा  पाली मुथाना  पाली सरेरी  भीलवाड़ा  खारी  भीलवाड़ा मेजा  भीलवाड़ा वानकिया  चित्तोड़गढ़  मुरलिया  […]

राजस्थान के प्रमुख तालाब



राजस्थान के प्रमुख पशु एवं उनकी नस्लें  भारत में प्रथम पशुगणना 1919 में आयोजित की गई। तब राज्य की कुछ रियासतों ने भी पशुगणना करवाई। राजस्थान में कुल पशु – 5.77 करोड़ सबसे ज्यादा पशुधन -बाडमेर सबसे कम पशुधन- धौलपुर वर्ष 2012 की पशु गणना के अनुसार राज्य में पशु […]

राजस्थान के प्रमुख पशु एवं उनकी नस्लें


राजस्थान की प्राचीन सभ्यताएं राजस्थान की प्राचीन सभ्यताएँ   ताम्रयुगीन सभ्यता   लौहयुगीन सभ्यता राजस्थान की ताम्रयुगीन सभ्यताएँ:-  1.कालीबंगा की सभ्यता – हनुमानगढ़  इस सभ्यता का विकास घग्घर नदी के किनारे हुआ। कालीबंगा का शाब्दिक अर्थ है- काली चूड़ियॉं। इस सभ्यता की खोज अमलानन्द घोष के द्वारा की गई। इस सभ्यता का उत्खनन बी0 वी0 लाल एवं वी0 के0 थापड़ […]

राजस्थान की प्राचीन सभ्यताएं


राजस्थान की चित्रकला राजस्थानी चित्रकला अपनी कुछ खास विशेषताओं की वज़ह से जानी जाती है। ब्राउन महोदय के अनुसार राजस्थानी चित्रकला का उदभव राजपूताना शैली से माना जाता है। राजस्थान की विभिन्न चित्र कलाओं के अधिकांश चित्र गोपी कृष्ण कानोड़िया संग्रहालय (उदयपुर) मे संग्रहित है।  प्राचीनता   प्राचीनकाल के भग्नावशेषों तथा […]

राजस्थान की चित्रकला



राजस्थान की आमेर रियासत यह रियासत ढूढॉंड़ क्षेत्र में स्थापित की गई।  आमेर का क़िला  राजस्थान के जयपुर में स्थित एक ऐतिहासिक नगर आमेर में राजपूत वास्तुकला का अद़भुत उदाहरण है। आमेर का क़िला दिल्ली – जयपुर राजमार्ग की जंगली पहाड़ियों के बीच अपनी विशाल प्राचीरों सहित नीचे माओटा झील के पानी में छवि दिखाता हुआ खड़ा है। प्राचीन काल में अम्‍बावती और […]

राजस्थान की आमेर रियासत


राजस्थान की मारवाड़ रियासत (Marwar Princely State of Rajasthan) मारवाड़ उत्तर मुग़ल काल में राजस्थान का एक विस्तृत राज्य था। मारवाड़ संस्कृत के मरूवाट शब्द से बना है जिसका अर्थ है मौत का भूभाग। मारवाड़ को मरुस्थल, मरुभूमि, मरुप्रदेश आदि नामों से भी जाना जाता है। भौगोलिक दृष्टिकोण से मारवाड़ राज्य के उत्तर में बीकानेर, पूर्व […]

राजस्थान की मारवाड़ रियासत


राजस्थान की बीकानेर रियासत बीकानेर शहर, उत्तर-मध्य राजस्थान राज्य, पश्चिमोत्तर भारत में स्थित है। बीकानेर दिल्ली से 386 किमी पश्चिम में पड़ता है। बीकानेर राजस्थान का एक नगर तथा पुरानी रियासत था। बीकानेर शहर भूतपूर्व बीकानेर रियासत की राजधानी था। लगभग सन् 1465 ई. में राठौर जाति के एक राजपूत सरदार बीका ने अन्य राजपूत जातियों का […]

राजस्थान की बीकानेर रियासत



राजस्थान की शाकम्भरी रियासत राजस्थान की शाकम्भरी रियासत शाकम्भरी रियासत के संस्थापक चौहान शासक थे। शाकम्भरी रियासत की प्रारम्भिक राजधानी अहिछत्रपुर थी जो वर्तमान नागौर है। चौहान शासक वासुदेव को सांभर झील का प्रवर्तक माना जाता है। वासुदेव के द्वारा ही सांभर की स्थापना की गई। 1113 ई0 में अजयराज […]

राजस्थान की शाकम्भरी रियासत


राजस्थान की मेवाड़ रियासत वर्तमान चित्तौड़गढ़, राजसमन्द, उदयपुर एवं भीलवाड़ा जिले के क्षेत्रों में मेवाड़ रियासत का साम्राज्य था। वर्तमान चित्तौड़गढ़ के निकट प्राचीन काल में शिवी जनपद का उदय हुआ जिसकी राजधानी मध्यमिका थी जिसे वर्तमान में नगरी के नाम से जाना जाता है। प्राचीन काल में चित्रांगद मौर्य […]

राजस्थान की मेवाड़ रियासत


प्रमुख व्यक्तियों के उपनाम प्रमुख व्यक्तियों के उपनाम :- दामोदर दास राठी राजस्थान का लौह – पुरूष गोकुल भाई भट्ट को राजस्थान का गांधी   महाराणा कुंभा स्थापत्य कला का जनक  महाराणा प्रताप हल्दीघाटी का शेर  राव चन्द्रसेन  मारवाड का प्रताप राणा चूंडा मेवाड का भीष्म पितामह राणा हम्मीर मेवाड […]

प्रमुख व्यक्तियों के उपनाम



राजस्थान में क्षेत्रों के प्राचीन व वर्तमान नाम राजस्थान में क्षेत्रों के प्राचीन व वर्तमान नाम :-  यौद्धेय – हनुमानगढ व गंगानगर के आसपास का क्षैत्र  शूरसेन – भरतपुर, करौली, धौलपुर व अलवर  गिरवा – उदयपुर के आसपास का क्षैत्र  खिजाबाद – चित्तौडगढ  खैराबाद- सिवाणा  […]

राजस्थान में क्षेत्रों के प्राचीन व वर्तमान नाम


राजस्थान की हस्तकलाएँ राजस्थान की हस्तकलाएँ :-  हाथ की रंगाई व छपाई   = लाल ( सांगानेर ), काली ( बगरू ), पीली ( पाली )  सुनहरी रंगाई व छपाई    = किशनगढ़ व चित्तौडगढ  जाजम छपाई  =बस्सी ( चित्तौडगढ )  अजरक प्रिंट  =बाडमेर  आजम प्रिंट =आंकोला […]

राजस्थान की हस्तकलाएँ


राजस्थान में स्त्रियों के आभूषण स्त्रियों के आभूषण :- सिर के आभूषण :- बोर, रखडी, शीशफूल, मेमन्द, हिकड़ा, टिडी-भलको । मस्तक के आभूषण :- बोरला, टीका, माँग-टीका, साँकली, सूर माँग, दामिनी व ताबित । नाक के आभूषण :- फीणी, नथ, चोंप, कांटा, चूनी, बेसरि, लौंग, लटकन व भँवरिया । कान […]

स्त्रियों के आभूषण



राजस्थान के वस्त्र व आभूषण राजस्थान के वस्त्र व आभूषण :- मारू थ्हारा देश में निबजे तीन रत्न ।     पहलो ढ़ोलो, दूजी मरवन और तीजो कसूमल रंग ।। महिलाओं के वस्त्र – 1. ओढनियाँ – पोमचा           2. लहरिया           3. […]

राजस्थान के वस्त्र व आभूषण


शब्द, भेद Test Name:  शब्द, भेद Subject:  हिंदी व्याकरण Topic: शब्द, भेद Questions: 24 Objective Type Questions Time Allowed: 15 Minutes Language: हिंदी Important for:  UPSC, IBPS RRB, Police, TGT / PGT, CTET, UPTET, REET, HTET, MPTET, BA, MA, B ed entrance exam, Railway, 8th, 9th, 10th, 11th, 12th, BA, MA आदि | अपडेट लगातार हासिल करने के लिए […]

शब्द, भेद | word difference


अलंकार Test Name:  अलंकार प्रश्न & उत्तर Subject:  हिंदी व्याकरण Topic: अलंकार प्रश्न & उत्तर Questions: 24 Objective Type Questions Time Allowed: 15 Minutes Language: हिंदी Important for:  State PCS, UPSC, IBPS RRB, Police, TGT / PGT, CTET, UPTET, REET, HTET, MPTET, BA, MA, B ed entrance exam, Railway, 8th, 9th, 10th, 11th, 12th, BA, MA […]

अलंकार प्रश्न & उत्तर