संविधान निर्माण के आरम्भिक चरण

संविधान निर्माण के आरम्भिक चरण




रेग्युलेटिंग एक्ट , 1773

  • 1773 ई. में बंगाल के प्रथम गवर्नर जनरल बने वारेन हेस्टिंग्ज ने रेगुलेटिंग एक्ट पारित किया |
  • इस एक्ट के तहत ईस्ट इण्डिया कम्पनी के क्रियाकलापों को ब्रिटिश शासन के नियंत्रण में लाया गया , कलकत्ता में सुप्रीम कोर्ट की स्थापना की गई |

भारत शासन अधिनियम , 1858

  • 1857 के प्रथम स्वतंत्रता संग्राम ने ईस्ट-इंडिया कम्पनी के प्रशासन को बुरी तरह प्रभावित किया | इसके परिणाम स्वरूप पार्लियामेंट को भारत शासन अधिनियम 1858 को पारित करना पड़ा |
  • इस अधिनियम से भारतीय शासन सीधे सम्राट के नियंत्रण में आ गया |
  • सम्राट की शक्तियों का उपयोग सेक्रेटरी ऑफ स्टेट फोर इंडिया द्वारा 15 सदस्यीय भारत परिषद की सहायता से किया जाने लगा |
  • अधिनियम के तहत इस परिषद में इंगलैंड के व्यक्तियों को शामिल किया गया जिनमे 8 सदस्य नामांकित तथा शेष ईस्ट-इंडिया कम्पनी के निदेशको के प्रतिनिधि होते थे | सेक्रेटरी ऑफ स्टेट ब्रिटिश पार्लियामेंट के प्रति उतरदाई होता था |
  • भारत के राज्य सचिव को एक निकाय निगम घोषित किया गया , जिसके फलस्वरूप उसे वाद चलाने तथा उस पर वाद संस्थित किये जाने का प्राधिकार हुआ |
  • इस अधिनयम में जनता को बिलकुल महत्व नहीं दिया गया |

अधिनयम 1858 की विशेषताए

  • ब्रिटिश क्राउन द्वारा भारत के शासन का अधिग्रì