Oops! It appears that you have disabled your Javascript. In order for you to see this page as it is meant to appear, we ask that you please re-enable your Javascript!

राजस्थान की प्रमुख फसलें सर्वाधिक क्षेत्रफल और उत्पादन के आधार पर

राजस्थान की प्रमुख फसलें Major crops of Rajasthan

राजस्थान की प्रमुख फसलें
राजस्थान की प्रमुख फसलें

राज्य कृषि उद्योग निगम लि. 1969 में गठित
राजस्थान राज्य कृषि विपणन बोर्ड 1974 में गठित
राजस्थान भूमि विकाश निगम – 1975
कृषि विपणन निदेशालय – 1980
राष्ट्रीय कृषि विपणन संस्थान – 1980 ( जयपुर)

राजस्थान की प्रमुख फसलें सर्वाधिक क्षेत्रफल और उत्पादन के आधार पर:-



सर्वाधिक क्षेत्रफल के आधार पर      (सर्वाधिक उत्पादन के आधार पर)
श्रीगंगानगर : राई व सरसौं , गन्ना, तारामीरा ( राई व सरसौं , गन्ना, तारामीरा)
हनुमागढ़ : चना (कपास और तंबाकू)
सीकर – चवला  (चवला)
जयपुर– जौ , मूँगफली ,मटर,मैथी ( जौ , मूँगफली ,मटर,मैथी)
अलवर : तंबाकू, गेहूं (  गेहूं)
भरतपुर : सूरजमुखी, मसूर ( सूरजमुखी, मसूर )
अजमेर : ज्वार (ज्वार)
भीलवाडा : उडद और मक्का (उडद)
झालावाड – सोयाबीन  
बाँसवाडा : चावल, अरहर  
 पाली : तिल  
जालोर : अरण्डी ( अरण्डी)
बाड़मेर : बाजरा (मोठ)
नागौर : मूंग ( मूंग )
 बीकानेर – गोरी मोठ  (चना)
चित्तौड़गढ़ : अफीम  (मक्का)
 झुझुनूं   (तंबाकू)
 कोटा  (सोयाबीन)
 उदयपुर (अरहर) 
 जोधपुर ( बाजरा) 




अलसी – सर्वाधिक क्षेत्रफल और उत्पादन कोटा जिले में होता है
होहोबा – इस झाड़ी कि ख्रती झुंझुनू जिले में सर्वाधिक कि जाती है

अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमे फेसबुक(Facebook) पर ज्वाइन करे Click Now

error: Content is protected !!