Tag: ITI Notes

ITI Notes in hindi and iti बेसिक इलेक्ट्रिकल थ्योरी
घरेलु वायरिंग संबंधी जानकारी Electrical machine notes in Hindi

  • इलेक्ट्रिक बोर्ड की वायरिंग कैसे होती है

    इलेक्ट्रिक बोर्ड की वायरिंग कैसे होती है

    इलेक्ट्रिक बोर्ड की वायरिंग कैसे होती है सबसे पहले आपको ये पता होना चाहिए कि किस कलर का वायर किस लिए उपयोग करते हैं । ● लाल वायर     –    फेज ● नीला वायर     –   फेज ● पीला वायर     –   फेज ● काला वायर    –   न्यूट्रल ● हरा वायर       –   अर्थ नियमों के अनुसार हमें हर […]

  • कंडेनसर क्या है

    कंडेनसर क्या है

    कंडेनसर क्या है What is condenser what does condenser work Condenser In Hindi : कंडेंसर एक हीट ऐक्सचेंजर है जिसमें उच्च तापमान वाली भाप से कम तापमान वाली हवा या पानी में हीट ट्रांसफर होती है जिसका प्रयोग कूलिंग मीडियम के रूप में किया जाता है। इसका कार्य कम्प्रेसर द्वारा कम्प्रेस की गई सभी रेफ्रिजरेंट […]

  • श्रेणी और समांतर प्रतिरोध का संयोजन

    श्रेणी और समांतर प्रतिरोध का संयोजन

    श्रेणी और समांतर प्रतिरोध का संयोजन प्रतिरोधों का संयोजन प्रतिरोधों के श्रेणीक्रम संयोजन के गणितीय व्यंजक को व्युत्पन्न करना :- माना कि R1, R2 और R3 प्रतिरोध हैं जो श्रेणीक्रम में जुडे़ हैं। I परिपथ में बहने वाली धारा है, जो प्रत्येक प्रतिरोध से गुजरती है और V1, V2 तथा V3 क्रमश: R1, R2 तथा R3, पर विभवान्तर है। तब, ओम […]

  • कार्यस्थल पर सुरक्षा के नियम

    कार्यस्थल पर सुरक्षा के नियम

    Safety rules at workplace औद्योगिक मनोविज्ञान में ‘दुर्घटना’ शब्द का उपयोग विशेष अर्थों में किया जाता है। कार्यस्थल दुर्घटनाएँ या ‘औद्योगिक दुर्घटनाएं’ सिर्फ वे होती हो जो कार्य परिस्थिति तथा कार्य संपादन प्रणालियों में कतिपय हुई त्रुटियों के कारण घटित होती है। दुर्घटना शब्द को परिभाषा में बांधना कठिन कार्य है, फिर भी ये ऐसी अप्रिय दुर्घटनाएं […]

  • विद्युत ऊर्जा उत्पादन के स्रोत

    विद्युत ऊर्जा उत्पादन के स्रोत

    विद्युत ऊर्जा उत्पादन के स्रोत विद्युत् शक्ति के लिए, वस्तुत:, तीन संघटक आवश्यक हैं : (1) चालक, जो व्यावहारिक रूप में एक निर्धारित व्यवस्था के अनुसार योजित संवाहक समूह होता है, (2) चुंबकीय क्षेत्र, व्यावहारिक रूप में एक कुंडली में विद्युत् धारा प्रवाहित करके प्राप्त किया जाता है और (3) चालक समूह को चुंबकीय क्षेत्र में […]

  • ईंधन किसे कहते है

    ईंधन किसे कहते है

    ईंधन किसे कहते है (What is fuel) जो पदार्थ जलने पर उष्मा व प्रकाश उत्पन करते है ,उसे ईंधन कहते है ईंधन की परिभाषा ऐसे पदार्थ जिन्हें ऑक्सीजन की उपस्तिथि में जलाने पर आसानी से जलने लगते है और अधिक मात्रा में ऊष्मा उत्पन्न करते है, ईंधन कहलाते हैं । सभी ईंधन ज्वलनशील होते हैं । […]

  • प्राथमिक सेल और द्वितीयक सेल क्या है

    प्राथमिक सेल और द्वितीयक सेल क्या है

    प्राथमिक सेल और द्वितीयक सेल क्या है What is primary cell and secondary cell प्राथमिक सेल क्या है वह सेल जिन्हे पुनः आवेशित नहीं जा सकता है ओर इसमे रासायनिक क्रिया अनुक्रमणीय होती है, प्राथमिक सेल कहलाता है। प्राथमिक सेल के उदाहरण —  शुष्क सेल (Dry cell) वोल्टीय सेल (Voltaic cell) लेक्लांशी सेल (Leklanshi cell) डेनियल सेल […]

  • अणु और परमाणु किसे कहते है

    अणु और परमाणु किसे कहते है

    अणु और परमाणु किसे कहते है अणु किसी तत्व का वह सूक्ष्मतम कण जो रासायनिक क्रिया में भाग ले सके परन्तु स्वतन्त्र अवस्था में न ठहर सके, परमाणु कहलाता है। परन्तु तत्व अथवा यौगिक का वह सूक्ष्मतम कण जो रासायनिक क्रिया में भाग न ले सके, परन्तु स्वतन्त्र अवस्था में ठहर सके, अणु कहलाता है। […]

  • घर पर पाइप से Earthing कैसे करें |

    घर पर पाइप से Earthing कैसे करें |

    घर पर पाइप से Earthing कैसे करें | सबसे पहले नमी वाली जगह देख कर वहां पर एक गड्ढा खोदने गड्ढा 30 से.मी. × 30 से.मी. आकार का 4.75 मीटर  गहरा होना चाहिए . आप GI पाइप का इस्तेमाल करें . इस पाइप की लंबाई 2 मीटर तथा 38 मि.मी. व्यास होना चाहिए. और इस […]